Vehicle Scrappage Policy, Nitin Gadkari.

Vehicle Scrappage Policy जारी, Nitin Gadkari ने दी जानकारी| बताया की जल्द ही यह पॉलिसी लागू की जायेगी तथा पुराने वाहन के बदले नया वाहन लेने पर भी मिलेंगे कई फायदे| Vehicle Scrapping Policy के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़े|

Vehicle Scrappage Policy issued, Nitin Gadkari said that it will start from October 1
Vehicle Scrappage Policy

Vehicle Scrappage Policy:

  • Vehicle Scrappage Policy के बारे में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का बयान जारी हुआ है जिसमे उन्होंने बताया है कि पुराने वाहन के बदले नया वाहन खरीदने वाले लोगों को कई तरह के फायदे मिलेंगे|
  • साथ ही उन्होंने कहा की सड़को से पुराने वाहनों को हटाने के लिए कई नए नियम भी बनाए गए हैं|

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री Nitin Gadkari का बयान:

  1. भारत सरकार के वर्तमान सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने लोक सभा में दिए गए बयान में बताया कि ” हमने एक सलाह जारी की जिसमें सभी वाहन निर्माता कम्पनियो से आवाहन किया गया और यह भी बताया गया कि यदि कोई अपने पुराने वाहन का Vehicle Scrappage Certificate दिखाए तो उन्हें नए वाहन लेने पर लगभग 5% की छूट दें”|
  2. साथ ही यह भी बता दे की उन्होंने ऑटोमोबिल कम्पनियो से केवल अनुरोध किया हैं| इसके अलावा उन्होंने बताया की वह किसी को अनिवार्य रूप से यह नहीं कह सकते हैं|
  3. और इसके साथ ही उन्होंने बताया इसके कारण प्रदूषण थोड़ा कम हो जायेगा और साथ ही नई गाड़ी खरीदने पर उपभोगता का एवरेज लगभग 2 से 3 गुना तक बढ़ सकता हैं|
  4. इसके अलावा उन्होंने बताया की व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी की मदद से कई लोगों को फायदा हो सकता हैं|

Registration और Road Tax में भी मिलेगी छूट:

  • भारत सरकार के वर्तमान सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने Vehicle Scrappage Policy के बारे में अधिक जानकरी देते हुए बताया की इसकी सहायता से रजिस्ट्रेशन और रोड टैक्स में भी कई छूट मिल सकती हैं|
  • और Vehicle Scrappage Policy मदद से लोगों में भी नए वाहन खरीदने की इच्छा जागृत होगी| और साथ ही व्हीकल स्क्रैपिंग पॉलिसी की मदद से ऑटोमोबिल सेक्टर को भी काफी फायदा हो सकता हैं| क्योकि लोग पुराने वाहनों की स्क्रैपिंग के बाद नया वाहन ले सकते हैं|

Vehicle Scrapping Policy के अन्य फायदे:

  1. Vehicle Scrapping Policy के कुछ अन्य फायदे वाहन के मालिक को भी मिलेंगे:
  2. इस पॉलिसी से जब कोई वाहन चालक अपने वाहन को स्क्रैप करवायेगा तो उन्हें एक Vehicle Scrappage Certificate प्राप्त होगा | तथा स्क्रैपिंग सर्टिफिकेट की मदद से ही नया वाहन खरीदने पर 5% तक की छूट मिल सकती हैं|
  3. 5% की छूट के लिए Vehicle Scrappage Certificate को ऑटोमोबिल कम्पनी को दिखाना पड़ेगा जिसके पश्च्यात ही आगे का कार्य पूर्ण होगा| तथा यह छूट ऑटोमोबिल कम्पनी के द्वारा दी जायेगी|
  4. इसके पश्च्यात नया वाहन लेने पर वाहन के रजिस्ट्रेशन में भी काफी छूट मिल सकती हैं|
  5. और इसके साथ ही यदि कोई कमर्शियल वाहन खरीदता है तो उस स्थिति में वाहन खरीदने वाले को रोड टैक्स में लगभग 15% की छूट मिल सकती हैं| इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति पर्सनल वाहन खरीदना चाहता है तो उसे रोड टैक्स में लगभग 25% की छूट मिल सकती हैं|
  6. तथा भारत सरकार के वर्तमान सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बताया की व्हीकल स्क्रैपिंग की कीमत नए वाहन के एक्स-शोरूम कीमत के अनुसार ही तय की जायेगी|
  7. और जो भी प्राइवेट वाहन होंगे उन्हें दोबारा रेजिट्रेशन न करने के आधार पर ही स्क्रैप किया जा सकेगा|
  8. इसके अलावा नितिन गडकरी ने बताया की शुरुआत में जो कमर्शियल वाहन होंगे उन्हें आटोमेटिक फिटनेस टेस्ट के अनुसार ही स्क्रैप किया जा सकेग|
  9. इसके साथ ही नितिन गडकरी ने बताया की Vehicle Scrappage Policy के पश्च्यात भारत विश्व का ऑटोमोबिल विनिर्माण का सबसे बड़ा हब बनकर तैयार होगा|
Vehicle Scrappage Policy का फिटनेस टेस्ट:
  • Vehicle Scrappage Policy के अनुसार यदि कोई वाहन जिनका दोबारा से रजिस्ट्रेशन नहीं हो पायेगा या फिर जो अपने फिटनेस टेस्ट में फैल होंगे उन्हें “एंड ऑफ व्हीकल” की श्रेणी में रखा जायेगा| मतलब की इसके पश्च्यात इस प्रकार के किसी भी वाहन को रोड पर नहीं चलाया जा सकेगा|
  • नितिन गडकरी ने बताया की 15 साल पुराने वाहन का जब फिटनेस टेस्ट किया जायेगा तो उस पर अधिक टैक्स लग सकता हैं|
  • तथा 20 साल से अधिक के ऐसे वाहन जो अपना फिटनेस टेस्ट पास करने में सक्षम नहीं होंगे उनका रजिस्ट्रेशन कैंसिल कर दिया जायेगा ताकि वे पुनः रोड पर न चलाए जा सके|
  • Vehicle Scrappage Policy के अनुसार यदि कोई कमर्शियल वाहन 15 साल पुराना वाहन अपने फिटनेस टेस्ट में फैल हो जाता हैं तो उसका पुनः से रजिस्ट्रेशन नहीं हो पायेगा|
कब से होगा Vehicle Scrappage Policy लागू:
  1. प्राप्त जानकारी के अनुसार पता चला है कि यह Vehicle Scrappage Policy तथा फिटनेस से जुड़े नियम 1 अक्टूबर को 2021 से जारी किया जायेगा|
  2. इसके अलावा PSU या सरकारी से जुड़े वाहन जोकि 15 वर्ष पुराने होंगे उनके स्क्रैपिंग के नियम 1 अप्रैल 2022 से जारी किये जायेंगे|
  3. और साथ ही कमर्शियल वाहनों के लिए फिटेनस टेस्ट के नियमो को 1 अप्रैल 2023 से जारी किया जायेगा|
  4. और साथ ही इसके अलावा अन्य वाहनों के लिए नियम 1 जून 2024 से जारी किये जायेंगे| तथा ये सभी नियम फेज के अनुसार अनुसार ही जारी किये जायँगे|
Read Similar Posts: